English Languages Skip to main content
Pause Button
(English) Standards (English) BIS Auditor (English) National Action Plan medical-equipments product-certification system-certification training hallmarking marks consumers (English) BIS Protection (English) National Lab Directory

हमारी मुख्य गतिविधियां

बीआईएस मानकीकरण की गतिविधियों के सुमेलित विकासार्थ बीआईएस धिनियम 2016 के अंतर्गत स्थापित एक राष्ट्रीय मानक निकाय है।

foreign-manufacturer
 मानक निरूपण

पूर्व भारतीय मानक संस्थान (आईएसआई) की स्थापना मानकीकरण के सुमेलित विकास के उद्देश्य से 1947 में की गई थी (अब भारतीय मानक ब्यूरो है) ।

product-certification
 उत्पाद प्रमाणन

भारतीय संसद के एक अधिनियम भारतीय मानक ब्यूरो अधिनियम 1991 के माध्यम से शक्ति प्रदत्त भारतीय मानक ब्यूरो , उत्पाद प्रमाणन का प्रचालन करता है।

 

system-certification
 पद्धति प्रमाणन

भारतीय मानक ब्यूरो 1991 से प्रबंधन पद्धति प्रमाणन योजना चला रहा है । आरंभ में बीआईएस ने गुणता प्रबंधन पद्धति प्रमाणन योजना प्रारंभ की।

laboratory
 प्रयोगशाला सेवाएं

गुणता आश्वासन परीक्षण कार्यक्रम एवं अंतः प्रयोगशाला तुलनात्मक और दक्ष परीक्षण में भागीदारी के माध्यम से परीक्षण की गुणता सुनिश्चित की जाती है ।

hallmarking
 हॉलमार्किंग

हॉलमार्किंग बहुमूल्य धातु की वस्तुओं में बहुमूल्य धातु की अनुपाती मात्रा में सरकारी रिकॉर्डिंग और सटीक निर्धारण है ।

consumer-affairs
 उपभोक्ता मामले

सिटीजन चार्टर के माध्यम से संगठन के मिशन और विजन को स्थापित , कार्यान्वित औऱ पुनरीक्षित करना ताकि निर्धरित समय में शिकायतों का समाधान किया जा सके।

fmcs
 विदेशी विनिर्माता

भारतीय मानक ब्यूरो वर्ष 2000 से बीआईएस अधिनियम , 1986 औऱ उसके अधीन बनाए गए नियमों और विनियमों के अंतर्गत विदेशी विनिर्माता प्रमाणन योजना (एफएमसीएस)चला रहा है।

registration-scheme
 पंजीकरण योजना

इलेक्ट्रोनिकी और सूचना प्रोद्योगिकी मंत्रालय ने “इलेकट्रोनिकी और सूचना प्रोद्योगिकी (अनिवार्य पंजीकरण के लिए अपेक्षाऐं ) आदेश 2012 ” अधिसूचित किया है।

training
 प्रशिक्षण

वर्ष 1995 में बढती हुई आवश्यकताओं औऱ अपेक्षाओं को देखते हुए बीआईएस के तत्वाधान में राष्ट्रीय मानकीकरण प्रशिक्षण संस्थान स्थापित किया गया। 

हमारी सेवाएं

 

बीआईएस के बारे में

हम कौन है

बीआईएस, बीआईएस अधिनियम 2016 के अंतर्गत स्थापित भारत का राष्ट्रीय मानक निकाय है जो मानकीकरण, मुहरांकन और सामान की गुणवत्ता प्रमाणन की गतिविधियों के सुमेलित विकास और इसके साथ जुड़े मामलों या आकस्मिक मामलों के सुमेलित विकास के लिए है।

बीआईएस राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था को कई तरीकों से ट्रेसिबिलिटी और मूर्तता लाभ प्रदान कर रहा है- मानकीकरण , प्रमाणन और परिक्षण के माध्यम से सुरक्षित विश्वसनीय गुणता वस्तु प्रदान करके; उपभोक्ताओं को स्वास्थय जोखिम कम करके; निर्यात और आयात विकल्पों को प्रोत्साहित करके;किस्मों के प्रसार पर नियंत्रण करके आदि।

 

और अधिक पढें»

.

about us
DG
Pramod Kumar TIwari

Director General (DG)

Message from the Director General, Bureau of Indian Standards….Read More»

Skip to content